19 मार्च, 2012

चुनाव व प्रत्‍याशी किन्‍नर.........................

जब छोटा था तो दादी बताया करती थी, श्रीराम जी वनवास को जा रहे थे तो लोग उन्‍हें अयोध्‍या की सीमा तक छोड्ने आयेा समझदार तो विलाप कर उन्‍हें विदा कर लौट गए लेकिन कुछ न घर लौटे न घाट। श्री राम की बाट जोहते रहे, बाद में यही बन गए किन्‍नर। 
चुनाव के दौरान ऐसे ही एक किन्‍नर प्रत्‍याशी से सवाल पूछा,
सवाल...आप चुनाव क्‍यों लड् रहे है.
............

जवाब......हम औरों...की तरह सिर्फ खडे् नहीं हैं। हम तो नाच रहे हैं, गा रहे हैं, लोगों का दिल बहला रहे हैं। गैरों को अपना बना रहे हैं, वोट दो तो अच्‍छा, वर्ना अपने घर खुश रहो बच्‍चा।


सवाल........ समाज में आपकी इमेज जिस तरह की है उससे लगता है कि लोग आपको वो देंगे....


जवाब........ कम से कम हमारी विरादरी के लोग तिहाड् तो नहीं जाते है, केवल ''तू जी तूजी नहीं करते....., हम तो 'सबजी सबजी' के हिमायती हैं। हम खेल में घोटालों का खेल नहीं खेलते। वे बेल कराते हैं हम दिलों का मेल कराते हैं, जरा एक बार अपने दिल पर हाथ रखकर इमानदारी से बताइये, अब तक जिन्‍हें वोट दे रहे थे क्‍या वे सारे के सारे अपनी बात को, वादों को करने वाले मर्द निकले....नहीं न। तो फिर हमे आजमाने में क्‍या एतराज.....


सवाल..... आपका चुनावी नारा क्‍या है...


जवाब..... जो हमसे टकरायेगा, हम जैसा हो जाएगा...


....................................वैसे इस बार यूपी विधानसभा चुनाव में कुल 4938 किन्‍नर मतदाता भी अपने मतों का प्रयोग करेंगे। इस चुनाव में गाजियाबाद से किन्‍नर प्रत्‍याशी राष्‍ट्रीय विकलांग पार्टी से धौलाना विधानसभा किन्‍नर मोर्चा की राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष शोभा बुआ को प्रत्‍याशी बनाया है। वहीं अयोध्‍या से गुलशन उ र्फ विन्‍दू किन्‍नर मैदान में हैं। इसके समर्थन में तमाम किन्‍नरों ने प्रचार किया है। किन्‍नर गुलशन उ र्फ बिन्‍दू का कहना है, कि वह अयोध्‍यावासियों के सहयोग से विधानसभा पहुंचेगी। ऐसा इसलिए कि राम के असली भक्‍त तो किन्‍नर समुदाय ही हैं। इन किन्‍नरों ने ही राम के लिए 14 वर्ष तक अयोध्‍या राज्‍य की सीमा पर प्रतीक्षा की थी......साभार प्रेमचन्‍द्र श्रीवास्‍तव
 

कोई टिप्पणी नहीं:

loading...
loading...