14 फ़रवरी, 2014

14 फ़रवरी........अपने जज्बातों को शब्दों में ढ़ालने का दिन

''मेरे दिल में आज क्या है तू कहे तो मै बता दूँ.. '' आज का दिन दो प्यार करने वालों के लिए इजहार-ए-मोहब्बत का दिन हैं। अगर आपके दिल में किस के लिए कोई एहसास है तो आज 14 फ़रवरी वैलेंटाइन डे इजहार-ए-मोहब्बत के लिए सबसे अच्छा दिन हैं। 14 फ़रवरी प्यार का दिन, प्यार के इजहार का दिन। अपने जज्बातों को शब्दों में ढाल कर बयाँ करने का सबसे अच्छा दिन। शायद दुनिया के हर धड़कते दिल को इस दिन का बेसब्री से इंतजार होता है। प्यार करने वाले इस दिन को अपने अपने ढंग से मनातें हैं। प्यार भरा यह दिन खुशियों का प्रतीक माना जाता है और हर प्यार करने वाले शख्स के लिए अलग ही अहमियत रखता है। 

वेलेंटाइन डे या संत वेलेंटाइन दिवस 14 फ़रवरी को अनेकों लोगों द्वारा दुनिया भर में मनाया जाता है। अंग्रेजी बोलने वाले देशों में, ये एक पारंपरिक दिवस है, जिसमें प्रेमी एक दूसरे के प्रति अपने प्रेम का इजहार वेलेंटाइन कार्ड भेजकर, फूल देकर, या मिठाई आदि देकर करते हैं। कहा जाता है कि ‘वेलेंटाइंस डे’ का नाम संत वेलेंटाइन के नाम पर रखा गया है। दरअसल रोम में तीसरी सदी में क्‍लॉडियस नाम के राजा का राज हुआ करता था। क्‍लॉडियस का मानना था कि विवाह करने से पुरुषों की शक्ति और बुद्धि का खत्‍म हो जाती है।

बस इसी के चलते उसने पूरे राज्‍य में यह आदेश जारी कर दिया कि उसका कोई भी सैनिक या अधिकारी शादी नहीं करेगा। लेकिन संत वेलेंटाइन ने क्‍लॉडियस के इस आदेश पर कड़ा विरोध जताया और पूरे राज्‍य में लोगों को विवाह करने के लिए प्रेरित किया। संत वेलेंटाइन ने अनेक सैनिकों और अधिकारियों का विवाह करवाया। अपने आदेश का विरोध देख आखिर क्लॉडियस ने 14 फरवरी सन 269 को संत वेलेंटाइन को फांसी पर चढ़वा दिया। तब से उनकी याद में यह दिन मनाया जाने लगा। 

प्यार एक खूबसूरत एहसास है, आप इसे सिर्फ आप दिल से महसूस करें, तभी आप प्यार सच्चा होगा। आज की व्यस्त जिंदगी में आदमी के पास अपने साथी के लिए समय छोड़कर बाकी सब कुछ हैं। यूँ तो प्यार करने वालों के लिए हर दिन खास होता है और अपने साथी से प्यार जताने के लिए दिन और तारीख मायने नहीं रखती लेकिन भागती हुई जिंदगी के लिए ही आज का दिन मोहब्बत के नाम कर दिया गया। तो दोस्तों अपने सारे काम को थोड़े देर के लिए किनारे करके अपने प्यार को अपने प्यार का एहसास दिला दीजिये। 

आज के समय में भारत में भी वैलेंटाइन का क्रेज बढ़ चूका है। भारत में वैलेंटाइन वसंत के महीने में आता है। आज का दिन आप अपने हाथों से मत जाने दीजिये आप भी जिसे प्यार करते हैं उससे अपने दिल की बात कह डालिये। आपके दिल से निकले तीन अल्फाज और गुलाब का फूल शायद आपकी जिंदगी में आज प्यार की बरसात कर दे।

कोई टिप्पणी नहीं: