15 मई, 2014

बॉलीवुड मोहिनी माधुरी दीक्षित के जन्मदिन पर विशेष.....


सिल्वर स्क्रीन पर अपने अभिनय, अपनी दिलकश अदाओं, खूबसूरत मुस्कराहट से दर्शकों को दीवाना बनाने वाली माधुरी दीक्षित 15 मई को अपना 47वां जन्‍मदिन मना रही हैं। गौरतलब है कि 15 मई 1967 में मुबई के मराठी परिवार में जन्मी माधुरी दीक्षित की इच्छा डॉक्टर बनने की थी लेकिन उनकी किस्मत उन्हे फ़िल्मी दुनिया मे ले आयी। वर्ष 1984 में राजश्री प्रोडक्शन की फिल्म 'अबोध' से अपना फिल्मी करियर की शुरुआत की लेकिन फ़िल्म कुछ सफल नही रही। लेकिन 1988 में प्रदर्शित फिल्म तेजाब ने उन्हें बॉलीवुड का चमकता सितारा बना दिया। 

'तेजाब' के बाद माधुरी का कैरियर बुलंदियों के तरफ चल निकला 'राम लखन', 'परिंदा', 'त्रिदेव', 'किशन कन्हैया', 'बेटा', 'प्रहार' जैसी लगातार कई सुपरहिट फिल्मों ने माधुरी को बॉलीवुड की नंबर वन हीरोइन बना दिया। वर्ष 1990 आई रोमांटिक फिल्म 'दिल' में वह आमिर खान के साथ पर्दे पर नजर आयीं। इस फिल्‍म के लिए उन्हें बेस्ट एक्ट्रेस का फिल्म फेयर अवार्ड मिला। इस फिल्म के गाने भी जबर्दस्त हिट हुए। जबकि राजश्री प्रोडक्‍शन की फिल्‍म ‘हम आपके हैं कौन’ की निशा के लिए लिए भी माधुरी को वर्ष 1995 में फिल्‍मफेयर पुरस्‍कार मिला। माधुरी की 'बेटा', 'खेल', 'खलनायक', 'हम आपके हैं कौन' जैसी फिल्मों ने माधुरी दीक्षित को ऐसी अभिनेत्री क दर्जा दिल दिया जिसका कोई मुक़ाबला नहीं था। इन फिल्मों में माधुरी ने अलग-अलग तरह की भूमिका की। और अपने हुनर से सबको हैरान कर दिया। 

वर्ष 1997 में आई उनकी आखिरी सुपरहिट फ़िल्म दिल तो पागल है के बाद वर्ष 1999 में माधुरी ने अमेरिका में काम कर रहे भारतीय मूल के डॉक्‍टर श्रीराम नेने से शादी कर ली माधुरी और श्रीराम नेने के दो बेटे हैं। उनके उपलब्धियों की लिस्ट लम्बी है। वर्ष 2000 में माधुरी को एक्ट्रेस ऑफ द मिलेनियम चुना गया। गिनिज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड के मिलेनियम वर्जन में उन्हें सबसे ज्यादा मेहनताना पाने वाली भारतीय अभिनेत्री माना गया। वर्ष 2008 में माधुरी को भारत सरकार ने पद्म श्री पुरस्‍कार ने नवाजा। फिल्म इंडस्ट्री में 25 साल पूरे करने पर 2011 में उन्हें फिल्मफेयर स्पेशल अवॉर्ड से भी नवाजा गया। उन्हें कुल 11 मुख्य अवॉर्ड मिले और 26 बार उन्हें अवॉर्ड के लिए नॉमिनेट किया गया। 

शादी के बाद माधुरी दीक्षित फिल्मों में फिर सक्रिय हुईं। माधुरी ने 'गजगामिनी' जैसी चर्चित फिल्म मे काम किया। 'गजगामिनी' ने बॉक्स ऑफिस पर कोई बहुत अच्छा कारोबार नहीं किया। उसके बाद 'लज्‍जा', 'हम तुम्हारे हैं सनम', 'देवदास' जैसी फिल्में कीं। उसके बाद एक लम्बे अंतराल तक अपने घर-परिवार में समय देने के बाद वर्ष 2007 में 'आजा नचले' फिल्म से माधुरी दीक्षित ने एक बार फिर से फिल्मों से वापसी की। माधुरी ने पिछले वर्ष प्रदर्शित फिल्म ये जवानी है दीवानी से इंडस्ट्री में कम बैक किया है। माधुरी की इस वर्ष 'डेढ़ इश्किया' और' गुलाब गैंग' जैसी फिल्मे प्रदर्शित हुयी है। 
loading...
loading...