25 अप्रैल, 2016

हनुमान जी पर नगर निगम का 4.33 लाख बकाया, नहीं दिया तो हो जाएंगे डिफॉल्टर

 आरा। बिहार के भोजपुर जिले में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। यहां राम के भक्त हनुमान को नगर निगम का चार लाख 33 हजार रुपये के बकाएदार बनाया गया है। रुपये नहीं चुकाए जाने के कारण नगर निगम भगवान हनुमान को नोटिस जारी करने की तैयारी में है। नगर निगम के एक अधिकारी के अनुसार, हनुमान को नोटिस भेजने की तैयारी की जा रही है।

हनुमान नगर निगम का बकाया नहीं चुका पा रहे हैं। इस कारण उनके खिलाफ नोटिस जारी किया जाएगा। इसके बाद भी अगर टैक्स नहीं भरा गया तो शहर के विभिन्न स्थानों पर हनुमान जी की होर्डिंग लगाकर उनका नाम सार्वजनिक किया जाएगा। अधिकारी ने बताया कि भगवान हनुमान पर नगर निगम का चार लाख 33 हजार रुपये बकाया है। नगर निगम टैक्स जमा करने के लिए पूर्व में उन्हें दो बार सूचना दे चुका है।

आरा नगर निगम के रजिस्टर (पंजी) में दर्ज बकायेदारों की सूची में मठिया हनुमान जी का नाम लिखा है। हनुमान के नाम पर वार्ड नंबर-37 में तीन होल्डिंग हैं। 587 नंबर होल्डिंग पर 3.17 लाख रुपये, होल्डिंग नंबर- 607 पर 94 हजार रुपये और होल्डिंग नंबर 624 पर 22 हजार रुपये बकाया हैं।

आरा नगर निगम आयुक्त प्रमोद कुमार का कहना है कि टैक्स होल्डर के नाम से नोटिस भेजने का नियम है। निगम का बकाया वसूलने के लिए मंदिर के प्रबंधक पर शिकंजा कसा जाएगा। उल्लेखनीय है कि बेगूसराय जिला में एक अंचल अधिकारी ने रामभक्त हनुमान को एक नोटिस भेजकर अतिक्रमण कर बनाए गए मंदिर को हटाने का निर्देश दिया था। नोटिस में कहा गया था कि आपके मंदिर के चलते सड़क से आने-जाने वालों को दिक्कत हो रही है।

इससे पहले, जनवरी में सीतामढ़ी के एक अधिवक्ता ने भगवान राम के खिलाफ परिवाद पत्र दाखिल किया था, जिसमें भगवान राम पर अपनी पत्नी सीता को प्रताड़ित करने का आरोप लगाया गया था। हालांकि बाद में न्यायालय ने इस परिवाद पत्र को खारिज कर दिया था।

कोई टिप्पणी नहीं:

loading...